सोमवार, 28 मार्च 2011

पुराना, नया सा …


हैं तरन्नुम नए, हैं बहाने नए ,
हर राह में मिलते फ़साने नए,
हैं छोड़ गए थे अपनी यादें बस अब,
अफसाने बन गए हैं पुराने, नए|

खिला फूल मोहब्बत का हर बाग में,
है दिल जल रहा सिर्फ मोहब्बत की आग में,
है राग लगा दिल गुनगुनाने नए,
अफसाने बन गए हैं पुराने, नए|

सर चढ के बोल रहा मोहब्बत का खुमार है,
हर तरफ फैला सिर्फ प्यार ही प्यार है,
हर  चेहरे  दिख रहे हैं अनजाने नए,
अफसाने बन गए हैं पुराने, नए|

थमी धडकने न जाने किसके इंतज़ार में ,
दिल भी डूबा न जाने किसके प्यार में,
सुनाता है    सन्नाटा भी  तराने नए ,
अफसाने बन गए हैं पुराने नए!!!
                                                              -- देवांशु

6 टिप्‍पणियां:

  1. Wah Wah Maja aa gaya yaar ekdum se refreshing hai .. Keep it up buddy

    उत्तर देंहटाएं
  2. kya thought hai...sab kuch naya purana barabaar ho gaya hai...

    उत्तर देंहटाएं
  3. Bhai devaanshu ji mai aapki jhoothi taareefkare aap ke jajbaaton ko achhe shabd dhundne se nahi rokna chahta..aapagar dhang se dekhen to pata chalega ki aap khud puzald hai...kahi aap muhabbat ki aag me jal rahe ho..kahin aap ko muhabbat ka khumaar chada hai aur vahi aapko pata bhi nahin ki aap kiske intejaar me dube hain? aur kiske intejaar me dhadkane thami hain?...bura n maanna mai aapki taareef agli kavita me kar dunga..

    उत्तर देंहटाएं
  4. भाई रमेश जी! पहले तो धन्यवाद आपके समय का जो आपने मेरी कविताओं को दिया....रही बात भ्रमित होने की...तो उसका कारण ये है कि ये सारी कवितायेँ पिछले ७-८ सालों में अलग अलग समय पर लिखी गयी हैं...जब जैसा मन रहा तब वैसी ही रचना बनी...हाँ ये मै मनाता हूँ कि मुझे या तो एक क्रम में उन्हें डालना चाहिए या फिर एक जैसी...कोशिश रहेगी कि अगली बार आपकी तारीफ ज़रूर मिले....

    उत्तर देंहटाएं
  5. भाई रमेश जी। पजल्ड से आपका क्या तातपर्य है मैं ये समझना चाह रहा था। आप अगर एक दिन में बैठकर सारी कवितायें पढेगे जो अलग अलग मनोभावों को दर्शाती हैं तो वो अलग अलग लगेगीं ही। और ये किसने कहा कि सारी कवितायें एक जैसी लगनी चाहियें। आप आलोचना करें, कुछ बताना चाहते हैं तो बतायें जो आपको पसंद नहीं आया। कवितायें एक जैसी नहीं है कहकर आप कह भी कुछ नहीं रहे और अच्छा खासा आप उसे ’कन्फ़्यूज’ कर रहे हैं।

    उत्तर देंहटाएं